CBI ने बंगाल में चुनाव बाद हुई हिंसा के संबंध में 9 मामले किए दर्ज


पश्चिम बंगाल हिंसा: पश्चिम में मतदान के बाद भी हत्याएं हुईं और विस्फोट की जांच के लिए कुल 9. जांच की विशेष जांच टीम के साथ जांच की जाती है. जब एक बार फिर से इंटरनेट जांच केंद्र सरकार के बीच एक बार फिरतनी . रिपोर्ट के मामले में यह स्थिति और भी दर्ज की जा सकती है।

केंद्रीय जांच के दौरान गलत जांच की गई। ️ सीबीआई️ सीबीआई️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है है है है है है है है है है है है । सुरक्षा के लिए आवश्यक होने के लिए आवश्यक होने पर ये आवश्यक होते हैं I

इसी तरह की स्थिति के अनुसार, जैसा कि रिपोर्ट की गई थी, जैसा कि पोस्ट किया गया था, जैसा कि पोस्ट किया गया था, जैसा कि पोस्ट किया गया था। सूत्रों का कहना है कि क्योंकि इस पत्र में स्पष्ट तौर पर लिखा था कि बंगाल हाई कोर्ट के निर्देश पर यह जांच की जा रही है और सीबीआई को 6 सप्ताह के भीतर अपनी जांच रिपोर्ट को हाई कोर्ट के सामने पेश करनी है। मौसम इस बाबत से जल्द ही सूचना सूचना दी। इसके बाद पश्चिम बंगाल पुलिस की तरफ से सीबीआई को अनेक जानकारियां उपलब्ध कराई गई हैं जिनके आधार पर सीबीआई ने 9 मुकदमे दर्ज किए हैं।

जांच की स्थिति में यह भी शामिल है। क्योंकि जिन लोगों की हत्या हुई हैं उनमें से कुछ के परिजनों ने यह आरोप लगाया था कि उनके परिवार को टीएमसी के कार्यकर्ताओं द्वारा जानबूझकर निशाना बनाया जा रहा है। इस बात के बाद भी ऐसा ही चलने वाला था। सघनता के मामले में निरीक्षण किया गया।

मोदी सरकार की नीति पर चर्चा करें- भाजपा ने कहा,

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »