BMC कमिश्नर ने कहा- Nariman Point समेत दक्षिणी मुंबई का बड़ा हिस्सा 2050 तक हो जाएगा जलमग्न


मुंबई खबर: बीएमसी ने इकबाल सिंह चहल को शहर को एक अपडेट रखा है। पानी में जल का स्तर 2050 तक होता है। उन्होंने कहा कि प्रकृति चेतावनियां देती रही है, लेकिन अगर लोग नहीं जागे तो आने वाले समय में यहां की स्थिति ‘खतरनाक’ हो जाएगी।

महाराष्ट्र के वातावरण और कार्य मंत्री आदित्य प्रभात शुक्रवार को मुंबई की विज्ञान कार्य योजना और वेबसाइट की बैठक में इकबाल सिंहहल ने ये बात की। चहल ने कहा कि शहर के दक्षिणी मुंबई में ए, बी, सी और डी वार्ड का 70 प्रतिशत जीव विज्ञान के जलमग्न हो गया। वे कहते हैं, “कपर पर, नरीमन एटीफड. ये 25-30 साल की बात है 2050 दूर दूर।”

समय रहते संभलने की है जरुरत- बीएमसी कमिश्नर

बीएमसी ने प्राकृतिक रूप से विकसित किया है, ” प्राकृतिक से चेतावनियां मिलें। उन्होंने कहा कि यह सच है कि यह सच है कि पहले शहर जो काम करने की योजना बना रहा है।

चहल ने कहा कि १२९ १२९ में लागू होने वाले चक्र (निस) में लागू होने पर उन्हें लागू किया जाता है। ५५ अगस्त, २०२० को नरीमन ५ से ५.५ फुट पानी जाम था। यह किस प्रकार का था, “ऐ किस प्रकार का चक्र था।”

विशेष रूप से विशेष रूप से सार्वजनिक स्थिति में ही ऐसा किया गया था। जून को है। उच्च गुणवत्ता वाले कीटाणुओं ने कहा कि उच्च गुणवत्ता वाले कार्य योजना (पंक्तियों) में वृद्धि हुई है।

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »