12 से 15 साल के न्यूरोलॉजिकल समस्या से ग्रसित बच्चों में बेहद प्रभावी है Pfizer वैक्सीन


बच्चों में फाइजर वैक्सीन की प्रभावशीलता: आतंक से पूरी तरह से संबंधित हैं। अब तक संक्रमण से संचार प्रक्रिया ही प्रभावी है। एक नई तकनीक के हिसाब से भिन्न होता है और बायएनटेक (फाइजर-बायोएनटेक) की गणना 12 से 15 वर्ष में विशिष्ट होती है। एक अध्ययन से ये पता लगाया जाता है कि इस तरह के गुण वाले व्यक्ति में गुणात्मक रूप से क्या होता है।

‘बचपन में रोग के अभिलेखागार’। हालांकि इस आकार को छोटा किया गया है। I इस प्रकार, कोरोना संक्रमण (कोरोना संक्रमण) पर होने वाले सामान्यत: खराब लक्षण (कोरोना के हल्के लक्षण) अभियान हो सकता है।

इस तरह से ये पता चला है कि उच्च जोखिम मेगरी में भी प्रभावशाली है। ️

यह भी आगे-

पुरुषों के स्वास्थ्य की समस्या: अच्छी सेहत के लिए जरूरी विटामिन और मिनरल्स जानें, इन सूक्ष्म का खतरा खतरनाक

विटामिन ए महत्वपूर्ण है? लाभ और उपयोग के तरीके

नीचे देखें स्वास्थ्य उपकरण-
अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की गणना करें

आयु कैलक्यूलेटर के माध्यम से आयु की गणना करें

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »