मुंबई के भायखला स्थित अनाथालय में 22 बच्चियां-महिलाएं कोविड पॉजिटिव


भायखला अनाथालय कोविड मामला: मुंबई के भायखला डॉक्टर अनाथालय और स्कूल में 22 लोगों में संक्रमण की रोकथाम करते हैं। खेल खेल में इन से 12 साल की आयु की आयु के बच्चें को मुंबई में कम्यूटर के वॉर्ड (बाल रोग वार्ड) में संशोधित किया गया था। अन्य 18 को भायखला के ‘रिचर्डसन एंड क्रूडस’ कोविड केयर सेंटर में सुपुर्द कर दिया गया है।

ये सेंट अनाथालय और स्कूल भायखला के अग्रीपाड़ा में है। ये अनाथालय महिलाओं और महिलाओं के लिए है। BMC के एम.बी.एस. एम.बी.एस. बीएमसी नेमा, 12 साल से कम उम्र की बच्चियों के एल्स से 12 साल 12 से 18 की एजग्रुप की हैं। वयस्क भी शामिल हैं। एक 71 महिला अनाथालय के रसोई में काम है।

रविवार को सूरज की रोशनी में

मंगलवार को अनाथालय की दो लड़कियों की बुद्धि सकारात्मक थी। कीटाणुओं की जांच की गई है। भाखला ई और वायु रोग के रोगक्षय रोग नियंत्रण में शक्तिशाली गुणवाँयुक्त होते हैं। जीन्स से 22 में संक्रमित कीटाणुओं को ठीक किया गया था।

इन लोगों के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए एक बार अनाथालय में जांच की गई। अपडेट के साथ अनाथालय को भी बंद कर दिया गया है I

जेम सिक्वेंस के लिए लड़ा गया सैलम्प्ल

इन 22 लोगों में या प्‍लस की स्‍टाईट के लिए सभी के सैलम्पल जैम सिन्सिंजिंग (जीनोम अनुक्रमण) के लिए फिक्स किया गया। भायखला ई वॉर्ड के स्वास्थ्य चिकित्सक शैलेंद्र बीर ने, ” सभी 22 सिम्पल के लिए जैम सिंजिंग के लिए कस्तूरबा स्पॉट किए गए हैं। जिस तरह से सभी स्थितियाँ दर्ज की गई हैं।

यह भी आगे

दिल्ली: ‘ के मैं

राहुल गांधी on Twitter: कृषि को राहुल गांधी ने केंद्र पर फिर से सूचना दी, ये बातें

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »