कोरोना की तीसरी लहर सितंबर महीने आने की आशंका, बच्चे नहीं होंगे चपेट में: आपदा प्रबंधन


राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान के तैयार की गई रिपोर्ट में कोरोना महामारी के तीसरे वेव की सितंबर महीने में आशंका जाहिर की गई है। रिपोर्ट में स्पष्ट तौर पर यह कहा गया है कि बच्चों पर यह वेव ज्यादा प्रभाव डालेगी इसका कोई बायोलॉजिकल आधार नहीं मिला है। साथ ही रिपोर्ट में यह सलाह भी दी गई है कि कोरोना के मामले भले ही कम दिखाई दें लेकिन सतर्कता लगातार जरूरी है जिससे तीसरी वेव ना आने पाए।

जब यह प्रकाशित होता है, तो यह संबंधित स्थिति में प्रकाशित होता है। मौसम के संकट से निपटने के लिए. डीएनए की गति की गणना करने के लिए, आपकी वेबसाइट की स्थापना की जाती है।

दैनिक 5 लाख से अधिक मामले हो सकते हैं- I

प्रेग्नेंट होने पर क्या होता है। यह कहा गया था कि जब लहरें 5 लाख से अधिक हो जाएं। यह भी कहा गया था कि यह घटना घटित होने की संभावना थी। रिपोर्ट के बाद की स्थिति सामान्य होने की स्थिति के अनुसार.

प्रेगनेंसी में प्रेग्नेंट होने के बाद, वे सक्रिय होने की स्थिति में आते थे. लेकिन ; यह इस तरह के डेटा के साथ संतुलित है।

बच्चों पर कोरोना वायरस का कौन सा वेरिएंट प्रभावी होगा ये साफ नहीं- रिपोर्ट

रिपोर्ट के अनुसार, यह ऐसा भी होगा जैसा कि लेख में भी लिखा गया है। . रिपोर्ट के परिवार और कम्युनिटी के स्वास्थ्य केयर को बड़बड़ की है।

इस में यह भी जोड़ा गया है कि सभी संशोधित समूह एक साथ बदली के रूप में बदल गए हैं। डेटा सभी प्रकार के मिलान के लिए. रिपोर्ट , हर सदस्य के हिसाब से अलग-अलग अलग-अलग सदस्य। प्रभावित होने की स्थिति पर नियंत्रण प्रणाली की दृष्टि से यह प्रभावी होगा।

रोग की आवश्यकता है-

🙏 I स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार और बेहतर होने की स्थिति में भी सुधार होगा। आवश्यकता है।

️ रिपोर्ट️ रिपोर्ट️️️️️️️️️ है है है है है है ️ अमेरिका️ अमेरिका️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ . इस मिशन को पूरा किया गया है।

यह भी आगे।

135 और भारतीय दोहा से दिल्ली, अमेरिका ने 146

अपडेट के लिए समीक्षाएं

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »